Ind vs Eng रोहित हार्दिक की जुगलबंदी ने अंग्रेजों को पिलाया पानी

0
1992

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे तीसरे और आखिरी एकदिवसीय मुकाबले में रोहित की बेमिसाल कप्तानी और हार्दिक की खतरनाक गेंदबाजी के आगे इंग्लिश बल्लेबाज घुटने टेकते नजर आए दरअसल आपको बता दें कि तीसरे मुकाबले में रोहित ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और ओल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर खेले जा रहे इस मुकाबले में एक बार फिर से टीम इंडिया के गेंदबाज अद्भुत गेंदबाजी करते हुए नजर आए.

पारी के दूसरे ओवर में मोहम्मद सिराज ने अपने एक ही ओवर में दो विकेट लेकर इंग्लिश खेमे में खलबली मचा दी इसके बाद बेन स्टोक्स और जेसन रॉय ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करनी शुरू कर दी रॉय केवल 31 गेंदों में 41 रन बनाकर भारतीय टीम के लिए बड़ा सिरदर्द बन रहे थे वही बेन स्टोक्स भी लय पकड़ चुके थे. ऐसे में कप्तान रोहित शर्मा ने एक नई चाल चली अब तक इस सीरीज में हार्दिक पांड्या ने जेसन रॉय को खत्म किया था और इससे पहले उन्होंने रॉय को पवेलियन की राह भी दिखाई थी इसीलिए रोहित ने पारी के 10 ओवर हार्दिक पांड्या को थमाया. और हार्दिक ने आते हैं अपने इस ओवर में जेसन रॉय को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट कराते हुए पवेलियन की राह दिखा दे 31 गेंदों में 41 रन बनाने वाले रॉय एक बार फिर से हार्दिक पांड्या का शिकार हो गए.

इसके बाद हार्दिक पांड्या यहीं नहीं रुके भारत के लिए डेंजर साबित हो रहे बेन स्टोक्स को भी उन्होंने अपनी ही गेंद पर कैच आउट करके पवेलियन की राह दिखा दी. भले ही हार्दिक पांड्या ने 2 विकेट लेकर सनसनी मचाई हो लेकिन इसमें रोहित शर्मा का भी बड़ा योगदान रहा है उन्होंने हार्दिक पर भरोसा दिखाया और सही समय पर गेंदबाजी में बदलाव करके इस बात को साबित किया कि आखिर इतने बेहतरीन कप्तान क्यों है. खबर लिखे जाने तक हार्दिक ने 3.4 ओवर की गेंदबाजी में केवल 2 रन देकर 2 विकेट अपने नाम किया था वही दो विकेट मोहम्मद सिराज भी चटकाए थे इंग्लैंड 15.4 ओवर में 80 रन पर अपने चार विकेट गवा चुका था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here