IPL 2024 Points Table : गुजरात की जीत के बाद बदल गया पूरा अंकतालिका, कौन बना नंबर 1, कौन है सबसे नीचे

0
9

IPL 2024 Points Table : आज जैसे ही यंग लैड शुभमन गिल की गुजरात ने धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 35 रनों से अपनी जीत का परचम लहराया तो उनकी ब्लॉकबस्टर जीत के बाद तो प्वाइंट्स टेबल का पूरा समीकरण ही बदल चुका है, केवल मुंबई इंडियंस ही नहीं बल्कि चेन्नई से लेकर हैदराबाद जैसी कई बड़ी-बड़ी टीमों के प्लेऑफ से बाहर होने का खतरा भी कई गुना बढ़ चुका है तो हम आपको इस वीडियो में बताने वाले हैं कि आखिरकार अब कौन सी टीम को कितने मुकाबले जीतने हैं प्ले ऑफ में जाने के लिए और कितने प्रतिशत चांसेस उनके बचे हुए हैं ,साथ ही साथ हम आपको प्लेऑफ का पूरा गणित भी दिखाएंगे और कैसे सबकी चहेती बेंगलुरु और चेन्नई अब प्लेऑफ में क्वालीफाई कर सकती है यह सब कुछ जानने के लिए हमारे साथ अंत तक जरूर बने रहे लेकिन उससे पहले यदि आप भी चाहते हैं कि आपकी फेवरेट टीम प्ले ऑफ में जाए तो हमारी इस वीडियो को लाइक और अपनी फेवरिट टीम का नाम दिल से कमेंट बॉक्स में जरूर कमेंट करिएगा

तो दोस्तों प्वाइंट्स टेबल में सबसे नीचे से बात करें तो आईपीएल 2024 की प्वाइंट्स टेबल में सबसे निचले स्थान पर या कहें बॉटम पर पंजाब किंग्स गिरते पडते आ चुकी है जिनका भी सीजन कुछ खास नहीं रहा है वह टूर्नामेंट से पहले ही एलिमिनेट हो चुके हैं जी हां बता दे सैम करन की कप्तानी में उन्होंने भी अब तक आईपीएल 2024 में कुल 12 मैच खेले हैं इस दौरान उन्होंने भी 4 मैच में जीत दर्ज की है तो वहीं 8 मैच में करीबी हार का सामना किया है जिसके चलते उनके भी 8 अंक हैं और – 0.423 के रन रेट से पंजाब प्ले ऑफ की रेस से बाहर हो चुकी है क्योंकि अब वह लगातार बचे 2 मैच जीत कर भी केवल 12 अंकों तक पहुंच सकते हैं जो उन्हें प्लेऑफ में पहुंचाने के लिए काफी नहीं है यानी कि पंजाब का एक बार फिर आईपीएल जीतने का सपना लगभग खत्म हो चुका है

तो वहीं दोस्तों उनसे थोड़ा सा ऊपर नवें पायदान पर पांच बार की आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियंस मौजूद है जिन्होंने इस सीजन सबसे शर्मनाक प्रदर्शन किया है आपको बता दे हार्दिक पांड्या की कप्तानी में मुंबई इंडियंस की टीम कुल 12 मुकाबले खेल चुकी है और अब तक मुंबई इंडियंस 4 मैचो में जीत के साथ मात्र 8 अंक कमा पाई है बाकी के 8 मुकाबलो में उन्हें बुरी तरीके से हार का मुंह देखना पड़ा है जहां अब मुंबई का रन रेट -0. 212 का हो चुका है जो पंजाब से बेहतर है इसलिए 8 अंक होने के बाद भी मुंबई उनको पीछे छोड़ चुकी है.. पर इसका उन्हें कुछ खास फायदा नहीं होने वाला क्योंकि मुंबई का सफर भी पहले ही खत्म हो चुका है और मुंबई फैंस का दिल चकनाचूर हो चुका है

तो वही दोस्तों अब जिस टीम ने सबसे लंबी छलांग लगाई है वह है शुभमन गिल की गुजरात टाइटंस की टीम जिन्होंने चेन्नई को पीट कर अब सातवीं पोजीशन पर कब्जा जमा लिया है उन्होंने अब तक इस पूरे टूर्नामेंट में 12 मैच खेले हैं इस दौरान उन्होंने 5 मैच में जीत दर्ज की है तो वहीं 7 मैच में बुरी तरीके से हार का सामना किया है जिसके चलते उनके अब 10 अंक हो चुके हैं हालांकि उनका रन रेट भी बेहद खराब – 1.063 का हो चुका है जो पूरी प्वाइंट्स टेबल में सबसे ज्यादा खराब है , यानी की गुजरात ने भले ही प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा रखी है

लेकिन अभी भी उन्हें बाकी बचे हुए दो मैचेस में लगातार दोनों मैच जीतने हैं जो कहने में आसान लगता है लेकिन करने में बहुत मुश्किल है और लगातार 2 मैच जीत कर भी वह केवल 14 अंकों तक पहुंच सकती है तब भी उन्हें दूसरी टीमों पर डिपेंड रहना पड़ेगा यानी कि अब यह कहना गलत नहीं होगा कि गुजरात के प्लेऑफ में पहुंचने के चांस केवल 10 से 20 परसेंट रह गए हैं यानी कि उन्हें भी अपना बोरिया बिस्तर बांध लेना चाहिए

तो वहीं दोस्तों गुजरात की जीत के बाद जिसे सबसे फायदा हुआ है वही है सबकी चहेती बेंगलुरु , जो अब पॉइंट्स टेबल में सातवें पायदान पर कब्जा जमा कर बैठी हुई है उन्होंने लगातार अपने पिछले 4 मुकाबलो में धमाकेदार जीत अर्जित कर अपनी प्लेऑफ की उम्मीदों को पंख लगा दिए .. इस समय बेंगलुरु की टीम टोटल 12 मुकाबले सीजन में खेल चुकी है जिनमें उन्हें 5 मैचेस में जीत मिली है बाकी के 7 मुकाबलों में उन्हें बेहद शर्मनाक तरीके से हार का सामना करना पड़ा है इसलिए बेंगलुरु की टीम 10 पॉइंट्स के साथ टेबल में 7वे पायदान पर है और इस समय उनका नेट रन रेट +0.217 का हो चुका है जो नीचे मौजूद टीमों में सबसे बेहतर है हालांकि बेंगलुरु फैंस को ज्यादा खुश नहीं होना चाहिए क्योंकि उनके प्लेऑफ में जाने की आशाएं जरूर बढ़ी है

लेकिन वह केवल गुजरात की तरह ही 10 से 20% रह गई है और अपने अगले 2 मैच लगातार जीतकर भी बेंगलुरु केवल 14 अंकों तक पहुंच सकती है मतलब अभी भी अपने 2 मैच जीतने के साथ-साथ उन्हें दूसरों पर डिपेंड रहना पड़ेगा यानी की आसान शब्दों में कहें तो हमेशा की तरह बेंगलुरु को तो इस बार भी आईपीएल ट्रॉफी का सपना भूल जाना चाहिए लेकिन बेंगलुरु जरूर कोई चमत्कार कर सकती है इसमें भी कोई शक नहीं है

हालांकि यहां से दोस्तों अब पॉइंट्स टेबल काफी पेचीदा और मुश्किल हो जाता है जहां से थोड़े-थोड़े रन रेट के अंतर से टीमों की पोजीशन निश्चित हुई है और कांटे की टक्कर सबके बीच देखने को मिल रही है जी हां अब छठवीं पोजीशन पर धोनी के चेले राहुल की लखनऊ कब्जा जमा कर बैठी है,केएल राहुल की कप्तानी में खेले गए 12 मैचो में उन्हें 6 मुकाबलो में धमाकेदार जीत मिली वहीं 6 मैचेस में उन्हें शर्मनाक हार का सामना भी करना पड़ा है जिसके चलते उनके 12 अंक है इस बीच इनका नेट रन रेट भी -0.769 का हो चुका है भले ही लखनऊ प्लेऑफ की बहुत बड़ी दावेदार नजर आ रही है पर उन्हें बाकी बचे हुए 2 मैचो में से 2 जीतने हैं यानी की प्लेऑफ का सफर मझधार में फंस चुका है और एक गलती उन्हें प्लेऑफ से बाहर फेंक देगी

वहीं दोस्तो अब नीचे की पांच टीमों के बाद टॉप की पांच टीमों के बारे में बात करें तो धोनी के शिष्य ऋषभ पंत की दिल्ली की क्रिकेट टीम अब पांचवे नंबर पर प्रमोट हो चुकी है ऋषभ पंत की कप्तानी में वह अब तक इस टूर्नामेंट में 12 मुकाबले खेल चुके है जिसमें उन्हें 6 मैचेस में जीत मिली है बाकी के 6 मुकाबलो में बुरी तरीके से हार का सामना करना पड़ा है और अब दिल्ली की टीम 12 मैचो में मिली 6 जीत से कमाए 12 अंक के साथ 5वे नंबर पर मौजूद है उनका नेट रन रेट भी माइनस 0.316 हो चुका है जो लखनऊ से थोडा सा ही बेहतर है तभी तो 12 अंक होने के बाद भी दिल्ली लखनऊ से ऊपर आ चुकी है और अब दिल्ली को भी 16 अंकों तक पहुंचने के लिए लगातार 2 में से 2 मैच जीतने हैं यानी कि अब दिल्ली के प्लेऑफ में क्वालीफाई करने की संभावना भी 50% हो चुकी है

तो वहीं दोस्तों महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई गुजरात से हारने के बाद भी चौथे पायदान पर चैंपियन की तरह जरूर मौजूद है और उन्हें कुछ खास फर्क नहीं पड़ा लेकिन अब गुजरात की जीत ने उनकी टेंशन जरूर बढा दी है इस दौरान चेन्नई की टीम ने 12 मैचेस खेल कर 6 मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की है तो वहीं 6 मैच में करारी हार का सामना किया है जिसके चलते उनके भी 12 अंक है हालांकि इस बीच चेन्नई की टीम का नेट रन रेट पॉजिटिव में +0. 491 का हो चुका है और बराबर अंक होने के बावजूद चेन्नई ने लखनऊ और दिल्ली सबको पीछे छोड़ दिया है यानी कि चेन्नई की टीम इस बार भी आईपीएल चैंपियन बनने की बड़ी दावेदार है और चेन्नई भी प्लेऑफ की 60% से भी अधिक की दावेदार बन चुकी है हालांकि अभी भी 16 अंकों तक पहुंचने के लिए उन्हें बाकी बचे हुए 2 मैचो में से 2 जीतने हैं और यदि इनमें से एक बार भी चेन्नई फिसली तो उनका प्लेऑफ का सपना मुश्किल में फंस सकता है

इसके बाद चेन्नई के ऊपर ऑरेंज आर्मी हैदराबाद की क्रिकेट टीम चौथे पायदान पर कब्जा जमा चुकी है आपको बता दे हैदराबाद ने भी अब तक पैट कमिंस के कप्तानी में टोटल 12 मैच खेले हैं इस दौरान उन्होंने 7 मैच में जीत का डंका बजाया है तो वही 5 मैच में हार का सामना किया है जिसके चलते उनके 14 अंक हो चुके हैं इस दौरान हैदराबाद की टीम का नेट रन +0.406 का हो चुका है और हैदराबाद 90% के साथ प्लेऑफ में ऑलमोस्ट क्वालीफाई कर चुकी है उन्हें बचे हुए दो मैचेज में केवल एक में जीत चाहिए और वह प्लेऑफ में क्वालीफाई कर जाएंगे

वहीं दोस्तों आपको बता दे नंबर वन बनने की जद्दो जहद के बीच दूसरे पोजीशन पर संजू सैमसन की राजस्थान मौजूद है जिनके लिए यह टूर्नामेंट धमाकेदार रहा है जी हां राजस्थान ने अब तक पूरे टूर्नामेंट में लगातार कुल 11 मैच खेले हैं और काबिले तारीफ तो यह है कि उन्होंने लगातार 8 मुकाबलो में जीत कमाई है जिसके चलते उनके प्वाइंट्स टेबल में सबसे ज्यादा 16 अंक है साथ ही उनका रन रेट भी काफी बेहतरीन है उनका रन रेट प्लस 0.476 का है जो कई टीमों से बेहतर है यानी कि अब तो उनका प्ले ऑफ 99% निश्चित हो चुका है

तो वहीं दोस्तों फिर आती है टेबल टॉपर या कहें आईपीएल 2024 की नंबर वन टीम तो नंबर वन की गद्दी पर बेताज बादशाह की तरह मौजूद है कोलकाता की क्रिकेट टीम जिसने एक ऊंची छलांग लगाते हुए अब सीधा नंबर वन की पोजीशन पर कब्जा जमा लिया है जी हां बता दे गंभीर की कोलकाता ने अब तक इस टूर्नामेंट में टोटल 11 मुकाबले खेले हैं इस बीच उन्होंने लाजवाब प्रदर्शन करते हुए अपने 8 मैचो में जीत का परचम लहराया है और 3 मैचो में उन्हें हार का सामना करना पड़ा जिसके चलते उनके 16 अंक हो चुके हैं इस बीच कोलकाता की टीम का नेट रन रेट पॉजिटिव में +1.453 हो चुका है और रन रेट के अंतर से कोलकाता ने सबको पीछे छोड़ते हुए नंबर वन की पोजीशन पर कब्जा जमाया है

यानी कि दोस्तों देखा आपने कैसे आधे से ज्यादा आईपीएल बीत जाने के बाद भी अभी भी केवल एक टीम प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हुई है यानी कि टूर्नामेंट तो कांटे का हो रहा है तो वहीं इसके बाद अब ऑरेंज कैप की लिस्ट की बात करें तो लोन वॉरियर की तरह बेंगलुरु की जिम्मेदारी अपने कंधों पर उठाने वाले विराट कोहली अब सबसे ऊपर ऑरेंज कैप अपने सिर पर सजा चुके हैं जिन्होंने 12 मैचो में कुल 634 रन बनाए हैं उन्होंने नंबर दो के पायदान पर मौजूद चेन्नई के कप्तान ऋतुराज गायकवाड को पीछे छोड़ा है जो 12 मैचो में 541 रन बनाकर उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं

यानी कि इन दोनों दिग्गज सितारों के बीच कांटे की जंग ऑरेंज कैप के लिए हो रही है इसके बाद पर्पल कैप की लिस्ट की बात करें तो नंबर वन के पायदान पर पंजाब की आन बान और शान हर्षल पटेल सबको पीछे छोड़ते हुए पर्पल कैप अपने सिर पर सजा चुके हैं उन्होंने केवल 12 मैचो में ही 20 विकेट चटकाए हैं उन्होंने इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर मौजूद मुंबई के सबसे बड़े सुपरस्टार जसप्रीत बुमराह को पीछे छोड़ा है जो 18 विकेटो के साथ नंबर दो के पायदान पर उनसे कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं यानी कि ऑरेंज कैप और पर्पल कैप दोनों की रेस काफी कांटे की हो चली है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here