India vs England, 4th Test : ध्रुव जुरेल ने फिफ्टी लगाकर किसे किया सलाम? फोटो जमकर हो रही वायरल

0
499

India vs England, 4th Test : रांची का मैदान जहां से भारत को महेंद्र सिंह धोनी जैसा महानतम विकेटकीपर बल्लेबाज और कप्तान मिला अब रांची की धरती पर ही सालों बाद महेंद्र सिंह धोनी की परछाई के रूप में हमें एक ऐसा खिलाड़ी मिल चुका है जो दूसरा धोनी बनने के काबिल है जी हां हम बात कर रहे हैं युवा विकेटकीपर बल्लेबाजी ध्रुव जुरैल की जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में अपने बल्ले से उस समय तबाही मचा दी जब भारत को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत थी और अपने बल्ले से न केवल उन्होंने इतिहास लिखा बल्कि महेंद्र सिंह धोनी के सालों पुराने रिकॉर्ड को तोड़कर साबित कर दिखाया कि वह यह खिलाड़ी कितना काबिल और टैलेंटेड है

जी हां दोस्तों लोन वॉरियर की तरह ध्रुव जुरैल ने सितारों से सजे भारतीय बल्लेबाजी क्रम में सबसे अधिक रन बना डालें कुलदीप यादव के साथ मिलकर 76 रनों की साझेदारी को अंजाम दिया तूफानी अर्धशतक ठोका तो उसके बाद आकाशदीप के साथ मिलकर उन्होंने छक्को की ऐसी बौछार करी की टीम इंडिया को 300 रनों के पार ले जाकर खड़ा किया हालांकि वह अपना शतक बनाने से चूक गए बावजूद उसके उन्होंने 6 चौकों और चार खौफनाक छक्को की बदौलत 90 रनों की ऐसी भयंकर परी खेल डाली जिसकी बदौलत उन्होंने इतिहास के पन्नों में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में दर्ज करवाया इसके बाद तो वह सभी की आंखों में तारे बन गए लेकिन जिस अंदाज में उन्होंने अपनी इस पारी को सेलिब्रेट किया वह तो एक बेहद ही खास तरीका था

जी हां जुरेल ने अपने करियर का पहला अर्धशतक लगाने के बाद भावुक मन से पिता को याद किया साथ ही साथ कप्तान रोहित को अपनी यह पारी समर्पित करते हुए उन्होंने तो करोड़ों हिंदुस्तानियों का दिल जीत लिया दरअसल जुरेल ने अर्धशतक लगाने के बाद ‘सैल्यूट’ किया इस तरह उन्होंने अपना पहला अर्धशतक पिता और कप्तान को समर्पित किया यह उनके लिए बेहद स्पेशल लम्हा था, सलूट करने के पीछे का उनका रीजन भी बेहद स्पेशल है दरअसल उनके पिताजी आर्मी में थे वह कारगिल युद्ध का हिस्सा बने थे और उसी में वीरगति प्राप्त की थी, पिता की तरह ध्रुव भी सेना में जाना चाहते थे सेना के स्कूल में पढ़ाई के समय उन्होंने तैराकी भी सीखी थी बाद में जब उन्होंने गली क्रिकेट में भाग लिया तो इस खेल से उन्हें प्यार हो गया

ध्रुव कई बार इंटरव्यू में कह चुके हैं कि वह पढ़ाई में उतने अच्छे नहीं थे उन्हें क्रिकेट खेलना काफी पसंद था ध्रुव को राजकोट टेस्ट में डेब्यू करने का मौका मिला वह 46 रन बनाकर आउट हो गए थे, लेकिन इस बार अर्धशतक पूरा कर लिया। इसके बाद जिस अंदाज में उन्होंने जश्न मनाया कि वह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जुरेल के सेलिब्रेशन को लोग काफी पसंद कर रहे हैं यहां तक की खुद कप्तान रोहित ने खड़े होकर उनके लिए तालियां बजाई और ऐसा दिखाया जैसे रोहित को उन पर खूब गर्व है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here