Watch Video : ऐतिहासिक शतक लगा ऋषभ पंत ने लगाया रिकॉर्ड का अंबार

0
1459

जिस अंदाज में दौरे की शुरुआत की थी उसी अंदाज में दौरे का अंत किया,, टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर ऋषभ पंत भारत के लिए बड़े मैच के बड़े player बनते जा रहे हैं… जब भी कोई सीरीज का decider होता है टीम के लिए खड़ा होता है यह मैच विनर और कुछ ऐसा करिश्मा कर जाता है जो अपने आप में एक स्वर्णिम इतिहास बन जाता है.. मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में एक ऐसा ही इतिहास लिखा है भारत ने और इसकी script लिखी है ऋषभ पंत ने जिन्होंने अपने नाम एक ऐसा सुनहरा रिकॉर्ड दर्ज कर लिया है जिसे हर भारतीय फैंस काफी समय तक याद रखेगा तो आइये इस वीडियो में जानते हैं आखिर मैनचेस्टर में कैसे ऋषभ पंत ने रचा इतिहास और भारत को सीरीज जिताकर अपने नाम की एक बड़ी उपलब्धी.

मैनचेस्टर में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए तीसरे और निर्णायक मुकाबले में टीम के स्टार विकेटकीपर ऋषभ पंत का जलवा देखने को मिला.. जिस तरह उन्होंने इंग्लैंड दौरे की शुरुआत एजबेस्टन में धमाकेदार शतक लगाकर की थी कुछ उसी तरह सीरीज का अंजाम भी पंत ने एक धमाके के साथ किया पर इसबार उनकी पारी ने भारत को finishing line पार करा दिया.. और साथ ही ऋषभ पंत ने भी अपनी पारी से मैनचेस्टर में इतिहास बनाया..

हालांकि दोस्तों जब ऋषभ पंत बल्लेबाजी के लिए पहुंचे थे तो भारतीय टीम की स्थिति काफी नाजुक थी.. 38 रनों पर भारत अपने टॉप 3 बल्लेबाजों को गंवा चुका था.. और यहां से मुकाबला जीतने के लिए किसी एक को स्पेशल पारी खेलने की जरूरत थी.. तब ऋषभ पंत ने मोर्चा संभाला और सबसे पहले सूर्यकुमार यादव के साथ मिलकर एक छोटी साझेदारी निभाई लेकिन 72 के score पर सूर्यकुमार यादव भी out हो गए और तब भारत के ऊपर काफी दबाव पड़ चुका था.. लेकिन फिर pant को पांड्या का साथ मिला और दोनों ने मिलकर मुकाबले का रुख पलट दिया.. ऋषभ पंत ने तब बड़े समझदारी से अपनी पारी को pace किया.. एक एंड से जब पांड्या आक्रामक रुख अख्तियार किए हुए थे तब ऋषभ ने अपने नेचुरल गेम के विपरीत जाकर बल्लेबाजी की और चोको छक्कों की बजाय Strike rotation पर ध्यान दिया.. और यही उनकी पारी की सबसे बड़ी खासियत रही.. देखते देखते दोनों बल्लेबाजों ने भारतीय टीम को 35 ओवर में ही 200 के आंकड़े को पार करा दिया और भारत जीत की तहरीर पर पहुंच गया हालांकि इसी बीच हार्दिक 55 गेंदों में 71 की शानदार पारी खेलकर आउट हुए.. जिसके बाद इंग्लैंड के पास वापसी का एक मौका था लेकिन तब ऋषभ पंत ने यह सुनिश्चित किया कि मेजबान टीम को कोई दूसरा मौका न मिले.. उन्होंने जडेजा के साथ मिलकर आखिरी partnership की और 113 गेंदों में 125 की नाबाद पारी खेलकर खुद pant ने विनिंग runs मारी और भारत को 5 विकेट से जीत दिलाकर सीरीज decider में शतक जड़ा और ऐसे निर्णायक मुकाबले में मैच विनिंग पारी खेलने का रिकॉर्ड भी अपना कायम रखा.. इसके अलावा ऋषभ पंत एशिया के बाहर शतक जड़ने वाले केवल तीसरे भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज बने हैं उन्होंने इस मामले में मौजूदा हेड कोच राहुल द्रविड़ और केएल राहुल के रिकॉर्ड की बराबरी की है..और अपने छोटे से करियर में एक और ऐतिहासिक पारी खेलकर अपना कद और ऊंचा कर लिया है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here